Vatican Radio HIndi

Archive for March 28th, 2012|Daily archive page

Pope Benedict XVI meets Fidel Castro in Cuba

In Church on March 28, 2012 at 10:05 pm

Vodpod videos no longer available.

सान्तियागो दे क्यूबाः क्यूबा के लिये सन्त पापा ने की प्रार्थना

In Church, Journey on March 28, 2012 at 10:04 pm

जूलयट जेनेविव क्रिस्टफर

सान्तियागो दे क्यूबा, 28 मार्च सन् 2012 (सेदोक): क्यूबा के सान्तियागो दे क्यूबा नगर स्थित एल कोब्रे की “वेरजन दे ला कारिदाद” मरियम तीर्थ पर सन्त पापा बेनेडिक्ट 16 वें ने क्यूबा के लोगों के लिये प्रार्थना की।

काथलिक कलीसिया के परमधर्मगुरु सन्त पापा बेनेडिक्ट 16 वें बुधवार को मेक्सिको तथा क्यूबा में अपनी छः दिवसीय प्रेरितिक यात्रा समाप्त कर रहे हैं।

गुरुवार, 29 मार्च को वे पुनः रोम लौट रहे हैं। ग़ौरतलब है कि रोम तथा क्यूबा में सात घण्टों का समयान्तर है इसीलिये इस रिपोर्ट में हम मंगलवार को सम्पन्न सन्त पापा के कार्यक्रमों के प्रमुख अंशों को श्रोताओं की सेवा में प्रस्तुत कर रहे हैं।

मंगलवार प्रातः सान्तियागो दे क्यूबा स्थित सान बाज़िलियो गुरुकुल के प्रार्थनालय में सन्त पापा ने ख्रीस्तयाग अर्पित किया तथा गुरुकुल के धर्माधिकारियों एवं छात्रों से विदा ले एल कोब्रे की “वेरजन दे ला कारिदाद” मरियम तीर्थ के लिये निकल पड़े।

मरियम तीर्थ के प्रवेश द्वार पर पहुँचते ही 15 बच्चों की एक गायक मण्डली ने सन्त पापा का स्वागत किया। अपनी पापामोबिल पारदर्शी मोटर गाड़ी से सन्त पापा ने तीर्थस्थल के चारों ओर भ्रमण किया तथा यहाँ एकत्र सैकड़ों श्रद्धालुओं को दर्शन दिये।

एल कोब्रे की “वेरजन दे ला कारिदाद” मरियम तीर्थ पर सान्तियागो दे क्यूबा के महाधर्माध्यक्ष दियोनिसियो गारसिया इबानेज़ ने भक्त समुदाय के बीच सन्त पापा का स्वागत किया तथा कहा कि सन्त पापा की उपस्थिति ने लोगों में देश के सुधार हेतु परिवर्तनों की आशा को मज़बूत किया है। क्यूबा तथा उसकी जनता के प्रति सन्त पापा की उत्कंठा के लिये महाधर्माध्यक्ष ने हार्दिक आभार व्यक्त किया।

एल कोब्रे की “वेरजन दे ला कारिदाद” मरियम तीर्थ के महागिरजाघर के भीतर क्यूबा के काथलिक धर्माध्यक्ष तथा सन्त पापा के साथ गये धर्माधिकारी पहले से ही उपस्थित थे।

सन्त पापा के महागिरजाघर में प्रवेश करते ही गायन मंडली के ऑरगन ने “प्रणाम मरिया” गीत की धुन बजाई। सन्त पापा वेदी की ओर आगे बढ़े और फिर मरियम की प्रतिमा के आगे उन्होंने मोमबत्ती जलाई तथा घुटने टेककर कुछ देर मौन प्रार्थना की।

प्रार्थना के बाद सन्त पापा ने महागिरजाघर के झरोखे से प्राँगण में उपस्थित भक्त समुदाय को सम्बोधित किया और कहा कि एल कोब्रे नगर में मरियम की उपस्थिति क्यूबा के सभी नागरिकों के लिये स्वर्ग से प्राप्त वरदान है।

इस अवसर पर उन्होंने विशेष रूप से अफ्रीका से लाये गये गुलामों के वंशजों का स्मरण किया जो क्यूबा की कुल जनसंख्या का तीस प्रतिशत हैं। साथ ही उन्होंने पड़ोसी देश हेयटी के लोगों को भी याद किया जो दो वर्ष पहले आये भूकम्प के परिणामों से अब भी उबर नहीं पाये हैं।

खजूर रविवार, दुःखभोग रविवार

In Sunday Reflection on March 28, 2012 at 9:26 pm

1 अप्रैल, 2012

इसायस 50: 4-7

फिलिप्पियों के नाम पत्र  2: 6-11 

संत मारकुस: 1-10; 14: 1-15:47

जस्टिन तिर्की, ये.स.

कोयला श्रमिक की कहानी

आज के रविवार को खजूर रविवार या दुःखभोग के रविवार के रूप में जाना जाता है। आज मैं आपलोगों को एक घटना के बारे में बताता हूँ। एक बार ऐसा हुआ कि एक कोयले के खदान के धँस जाने से कुछ लोग उसमें फँस गये थे। कंपनी वालों के प्रयास से बहुतों को तो सुरक्षित निकाल लिया गया। पर अंत में पाया गया कि तीन लोग फँसे रह गये। लोगों को यह भी जानकारी दी गयी कि जहाँ वे तीनों काम कर रहे थे उस क्षेत्र में विषैली गैस की संभावना प्रबल थी। तीनों परिवार के लोगों ने कंपनी से गुहार लगाया कि उनके परिवार के लोगों को बचाने का उपाय किया जाये। जो खानों में बचाने के अनुभवी लोग थे उन्हें भी भय होने लगा कि बचाने के सिलसिले में कहीं उनकी ही जान न चली जाये। जब इसकी बात चल ही रही थी कि एक बचाव दल के एक नौजवान ने कहा कि वह खदान के अंदर जायेगा और उन तीन लोगों को बचाने का प्रयास करेगा। सब कुछ तैयार हो गया। वह व्यक्ति खदान के अंदर जाने की पूरी तैयारी कर ली। अपने हेलमेट पहन लिये और ऑक्सीजन का सेलिन्डर अपने अपनी पीठ पर बाँध लिया। इसी समय समाचार पत्र वालों ने उस व्यक्ति को घेर लिया और कहा, “भाई साहब आप खदान के अंदर जा रहे हैं?” उस युवक ने कहा ‘हाँ’ । “क्या आप सोचते हैं कि वे जीवित होंगे उसका जवाब था ‘हाँ’।” उनका अगला सवाल था, “क्या आपको मालूम है कि अंदर जहरीली गैस है?” उसका जवाब था ‘हाँ’। “आप फिर भी जा रहे हैं? उसका जवाब था ‘हाँ’। और उनके देखते-देखते उस युवक ने उस सीढ़ी की ओर अपना कदम रखा जहाँ से उतर कर लोग कोयले की खदान की गहराई में उतरते हैं।

कर्त्तव्य का पालन

मित्रो, कर्त्तव्य का पालन वफ़ादारी से करने वाले ही ईश्वर की इच्छा का भी पालन करते हैं और ऐसे लोग महान् होते हैं। ऐसे लोग इसीलिये जीते और मरते हैं ताकि दूसरों का कल्याण हो। Read the rest of this entry »

Pope Benedict XVI meets with Cuban leader Raul Castro

In Church on March 28, 2012 at 11:48 am

Vodpod videos no longer available.

Pope to Cubans: “I have also prayed…for those who suffer and are deprived of freedom”

In Church on March 28, 2012 at 10:16 am

Vodpod videos no longer available.

Pope to Cubans ” I prayed for you”

In Church on March 28, 2012 at 10:15 am

Vodpod videos no longer available.

Pope celebrates Mass in Cuba

In Church on March 28, 2012 at 10:13 am

Vodpod videos no longer available.

Pope Celebrates Mass in Santiago, Cuba

In Church on March 28, 2012 at 10:07 am

Vodpod videos no longer available.

Pope in the streets of Mexico

In Church on March 28, 2012 at 6:35 am

Vodpod videos no longer available.

Pope in Mexico

In Church, Journey on March 28, 2012 at 6:34 am

Vodpod videos no longer available.

 

%d bloggers like this: