Vatican Radio HIndi

ताइवान में विमान हादसा के प्रति संत पापा का शोक संदेश

In Church on July 24, 2014 at 2:05 pm

ताइवान में विमान हादसा के प्रति संत पापा का शोक संदेश

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 24 जुलाई 14 (वीआर सेदोक)꞉ ताइवान में विमान हादसा के शिकार लोगों एवं उनके परिवारों के प्रति संत पापा फ्राँसिस ने गहरा दुःख व्यक्त किया।

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन ने संत पापा की ओर से ताईपेई के महाधर्माध्यक्ष जोन हंग शान कौन को एक टेलीग्राम प्रेषित कर हादसे के शिकार लोगों के लिए प्रार्थना की तथा परिजनों को सात्वना प्रदान किया, उन्होंने संदेश में कहा, ″मगोंग हवाई अड्डे पर दुर्घटना की खबर सुन, संत पापा अत्यन्त दुःखी हैं। वे दुर्घटना के शिकार लोगों की आत्मा शांति हेतु प्रार्थना करते एवं परिवारवालों के प्रति अपनी आध्यात्मिक सामीप्य प्रकट करते हैं।″

ताइवान में बुधवार को एक विमान हादसे का शिकार हो गया. हादसे में कम से कम 47 लोगों के मारे जाने की आशंका है।

दमकलकर्मियों ने 11 लोगों को बचा लिया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अधिकारियों के अनुसार हादसा मागोंग हवाई अड्डे पर आपातकालीन लैंडिंग के दौरान हुआ।

ट्रांसएशिया एयरवेज़ का ये विमान दक्षिणी शहर काओशिउंग से पेंघु द्वीप की उड़ान पर था।

ताइवान की सरकारी समाचार एजेंसी ने ख़बर दी है कि विमान में कुल 54 यात्री और 4 चालक दल के सदस्य सवार थे।

दिल्ली में ताइवान के दूतावास का कहना है कि ट्रांसएशिया एयरवेज़ के मुताबिक विमान में सवार दो विदेशी यात्री फ़्रांस के थे।

अधिकारियों के मुताबिक तूफ़ानी मौसम में विमान आपातकालीन लैंडिंग की कोशिश कर रहा था। आपातकालीन लैंडिंग के दूसरे प्रयास में विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

Usha Tirkey

 

ईराक में बढ़ती हिंसा, विश्व के ठोस कदम की आशा

In Church on July 24, 2014 at 2:04 pm

ईराक में बढ़ती हिंसा, विश्व के ठोस कदम की आशा

बगदाद, बृहस्तिवार, 24 जुलाई 2014 (वीआर अंग्रेजी)꞉ ईराक में युद्ध के कारण गहराती गंभीर स्थितियों तथा विश्व के अन्य देशों द्वारा उनकी मदद हेतु निष्क्रियता के प्रति प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बगदाद के सहायक धर्माध्यक्ष श्लेमोन वरदूनी ने शिकायत की।

उन्होंने 23 जुलाई को वाटिकन रेडियो से कहा, ″कहाँ है ख्रीस्तीयों के अधिकारों की कद्र? हमने विश्व से सहायता की अपील की है पर आप चुप क्यों हैं, क्यों आप बोलते नहीं, क्या मानव अधिकार नाम की कोई चीज रह गयी है, अगर है तो कहाँ है, ऐसे कई कारण हैं जो विश्व को जगा सकते हैं? कहाँ है यूरोप और अमेरिका?″

धर्माध्यक्ष ने कहा कि पश्चिमी देशों की चुप्पी के बीच ईराक में उग्रवादियों के थमने का नाम नहीं है।
उत्तरी ईराक स्थित निन्नेहवे प्लेन में मोसुल से पलायन कर रहे लोगों ने शरण ली है किन्तु अब उन्हें भी निशाना बनाने हेतु आई. सी. आई. सी. जिहादियों (उग्रवादी मुस्लमानों) ने बुधवार को टिलकिफ गाँव में एक तोप हमला कर डाला।
इस्लामी उग्रवादी निन्नेहवे प्लेन पर भी कब्जा करना चाहते हैं। हमले के साथ-साथ इन गाँवों को बिजली, पानी तथा दवाओं के अभाव का भी सामना करना पड़ रहा है क्योंकि सभी वस्तुएँ मोसुल से आपूर्ति की जाती थीं। उग्रवादियों ने सभी लाईनों को भी काट दिया है।

Usha Tirkey

 

सच्चा आनन्द

In Church on July 24, 2014 at 2:03 pm

सच्चा आनन्द

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 24 जुलाई 2014 (वीआर सेदोक)꞉ संत पापा फ्राँसिस ने बृहस्पतिवार 24 जुलाई को एक ट्वीट संदेश प्रेषित कर सच्ची खुशी प्राप्त करने का रास्ता बतलाया।

उन्होंने संदेश में लिखा, ″यदि कोई धन, घमंड और सत्ता से चिपका हो तो सच्ची खुशी प्राप्त करना नामुमकिन है।″
संत पापा ने ट्वीट संदेश को- इताली, लैटिन, अँग्रेज़ी, स्पानी, पुर्तगाली, फ्रेंच, जर्मन एवं अरबी भाषाओं में प्रेषित किया।
विदित हो कि संत पापा के ट्वीट को प्राप्त करने वालों की आधिकारिक संख्या 10 मिलियन है और अंग्रेजी में 4 मिलियन लोग संत पापा के संदेश को प्राप्त करते हैं।

Usha Tirkey

कांदिविदी Invia articolo

//

//

 

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 66 other followers

%d bloggers like this: